इंटरनेट क्या है?

              

इंटरनेट


इंटरनेट को हिंदी में अंतरजाल कहते हैं। पहले पांच करोड़ लोग  तक पहुंचने में संचार को 75 साल, रेडियो को 38 साल, टेलिविजन को 13 साल और इंटरनेट को केवल 4 साल लगे। ये इंटरनेट ही हैं जिनकी वजह से आप हमें पढ़ रहे हैं।

इंटरनेट का संपर्क किसने किया?
विश्व में इंटरनेट की शुरूआत 29 अक्टूबर, 1969 को रात 10:30 बजे हुई .. जब ULCA के एक प्रोग्रामर 'चार्ली क्लीन' ने 350 किलोमीटर दूर में, पार्क, कैलिफ़ोर्निया में दो शब्द "मैं" और "ओ" इलेक्ट्रॉनिकली भेजे थे सिस्टम बंद हो गया है लेकिन इंटरनेट का आरंभ हो गया है। इसे 'ARPANet' नाम दिया गया। इसके बाद 1 जनवरी, 1983 को 'विनटेल' और 'रॉबर्ट ई। कान के दोनों पक्षों ने टीसीपी / आईपी प्रोटोकॉल का दावा किया और एंड्रॉइडनेट टीसीपी / आईपी पर माइग्रेट कर दिया। आज इंटरनेट इसी से चलता है। विंट और रॉबर्ट को "इंटरनेट के पिता" भी कहा जाता है।

" डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू  क्या है'''

WWW का पूरा नाम 'वर्ल्ड वाइड वेब' 'वर्ल्ड वाइड वेब' है। कुछ लोग WWW को ही इंटरनेट समझ लेते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि WWW और इंटरनेट दोनों अलग-अलग चीज़ों है। WWW सिर्फ इंटरनेट पर मौजूद पृष्ठों के लिए हैं जबकि इंटरनेट इसके अलावा बहुत बड़ा है। आसान शब्दों में कहे तो इंटरनेट के बिना WWW कुछ भी नहीं है बल्कि WWW के बिना इंटरनेट बहुत कुछ है। WWW का पुरस्कार 'टिम बर्नर्स-ली' और 'रॉबर्ट कैलिएइउ' ने 1989 में कर दिया था .. लेकिन यह आम जनता के लिए 6 अगस्त, 1991 को शुरू किया गया था।